Why & How does Celebrate good friday ? Good friday in hindi




 गुड फ्राइडे चूंकि ईसाइयों का एक पवित्र त्योहार माना जाता हैआज भी देवताओं की गुड फ्राइडे क्यों मनाया जाता है और कैसे मनाया जाता है 

। इसाइयों के सबसे प्रमुख त्योहार में से एक है गुड फ्राइडे । इस दिन ईसाइयों के गुरु ईसा मसीह को सूली पर चढ़ाया था । इसके दो दिन बाद ही लोग चिंतित हो उठे थे । जिस खुशी में इस्टर संडे के रूप में मनाया जाता है । मतलब फ्राइडे को उनको सूली पर चढ़ाया गया था लेकिन संडे को फिर से जिंदा हो उठे थे । इस वजह से ये संडे आता उसको ईस्टर संडे और फ्राइडे को गुड फ्राइडे के रूप में मनाया जाता है । 


माना जाता है कि प्रवीण ने मानवता की भलाई और उनकी रक्षा के लिए अपने प्राणों का बलिदान दे दिया था । इसाई धर्म के अनुसार ईसा मसीह परमेश्वर के बेटे हैं । उन्हें अज्ञानता के अंधकार को दूर करने के लिए मृत्युदंड दिया गया था । 

उनके विरोधी बहुत ज्यादा थे और उनका लोग आलोचना करते थे विरोध करते थे इस वजह से कट्टरपंथियों को खुश करने के लिए पिलाते उसने 20 को क्रॉस पर लटका कर जान से मारने का आदेश दे दिया लेकिन अपने हत्यारों की उपेक्षा करने के बजाय यीशु ने उनके लिए प्रार्थना करते हुए कहा था कि हे ईश्वर इन्हें क्षमा कर क्योंकि ये नहीं जानते कि क्या कर रहे हैं । 

जिस दिन ईसा मसीह को क्रूस पर लटकाया गया था उस दिन फ्राइडे था यानी शुक्रवार था । इस वजह से इस दिन को गुड फ्राइडे कहा जाने लगा । गुड फ्राइडे को और भी नाम से जाना जाता है इसे होली फ्राइडे ब्लैक फ्राइडे देट फ्राइडे इन सब नाम से भी उसको जाना जाता है और इस तरह संडे भी गुड फ्राइडे से ही कनेक्ट है ।

 फ्राइडे को उनको सूली पर चढ़ाया गया था और संडे को जिंदा हो उठे थे । इस वजह से जो संडे उसको ईस्टर संडे और गुड फ्राइडे ईस्टर संडे भी काफी फेमस और पवित्र त्योहार माना जाता है अब बात करते हैं कि जो गुड फ्राइडे होता है वो कैसे मनाया जाता है ।

Also read:- why do we celebrate Easter?

Also read:- why do we celebrate Buddha Purnima?


 गुड फ्राइडे के 40 दिन पहले से ही ईसाइयों के घरों में प्रार्थना और उपवास शुरू हो जाते हैं । इस प्रथा में शाकाहारी खाना खाया जाता है । गुड फ्राइडे के दिन लोग चर्च जाते हैं और यीशु को याद कर शोक मनाते हैं । इसी के साथ गुड फ्राइडे के दिन ईसा के अंतिम सात वाक्यों की विशेष व्याख्या की जाती है जो क्षमा मेल मिलाप सहायता और त्याग पर केन्द्रित होती है । वहीं मौत के दो दिन बाद ईसा मसीह के फिर से जीवित हो जाने की खुशी में ईसाई लोग प्रभु भोज में भाग लेते हैं और खुशी मनाते एक दूसरे को अंडे के आकार के तोहफे देते हैं । 

अंडे का आकार का इसलिए क्योंकि जो ईस्टर संडे ईसाई समुदाय में ईस्टर एग यानी अंडे का विशेष महत्व है । इस्टर संडे और ईस्टर एग दोनों कनेक्शन दूसरे से गुड फ्राइडे इस्टर संडे और ईस्टर एग इन तीनों फेस्टिवल एक साथ इसी टाइम मनाया जाता है ।

 जिस तरह से चिड़िया सबसे पहले अपने घोसले में अंडा देती है उसके बाद उसमें से चूजा निकलता है । ठीक उसी तरह अंडे को सूप माना जाता है । ईस्टर संडे के दिन लोग एक दूसरे को अंडे के आकार को गिफ्ट देते हैं ।

 यही नहीं सजावट नवी अंडे के आकार का इस्तेमाल किया जाता है तो तो यही थी । गुड फ्राइडे ईस्टर संडे के बारे में संपूर्ण जानकारी भी आपको पसंद है तो लाइक करना और कमेंट बॉक्स में आप गुड फ्राइडे के लिए शुभकामना दे सकते हैं  

Thank you soo much


Comments

Popular posts from this blog

What is democracy and what is dictatorship ?

what is Geeta Jayanti ? (गीता जयंती क्या है?)

Biography of Swami Vivekananda