why do we celebrate valentine's day? in hindi




why do we celebrate valentine's day? in hindi




Valentine's day आप सभी मनाते होंगे लेकिन क्या आप जानते हैं वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है । आजकल युवाओं से लेकर बूढ़े व्यक्ति भी इस प्यार के दिन को मनाते हैं वैलेंटाइन डे हर साल फरवरी की 14 तारीख को मनाया जाता है । वैलेंटाइन डे मनाना एक फैशन सा बन गया है लेकिन शायद ही कोई जानता हो कि वैलेंटाइन डे मनाने के पीछे का कारण क्या है । 

आइये आज हम आपको बताते है कि क्यों मनाया जाता है और वैलेंटाइन डे का इतिहास क्या है। लेकिन दोस्तों अगर आप हमारे ब्लॉग पर पहली बार आए हैं तो हमें फॉलो ज़र्रोर करे ताकि आने वाले ब्लॉग के बारे में आप लोगों को अपडेट चीजें मिलती रहें । तो चलिए शुरू करते हैं ।



History of valentines day 


why do we celebrate valentine's day? in hindi

Saint valentine

माना जाता है कि वैलेनटाइन डे नाम संत वेलेंटाइन के नाम पर रखा गया है । वैलेंटाइन डे संत वैलेनटाइन के याद में ही मनाया जाता है। संत वेलेंटाइन एक साधारण पादरी थे लेकिन एक दिन कुछ ऐसा हुआ जिसकी वजह से संत वैलेंटाइन आज भी हमारे दिलों में जिंदा है।

14 February  को मनाए जाने वाले वैलेंटाइन डे का इतिहास बहुत पुराना है । दरअसल रोम की तीसरी सदी में एक राजा हुआ करते थे जिसका नाम क्लॉडियस था । वह मानते थे कि शादी करने से पुरुष की शक्ति और बुद्धि खत्म हो जाती है । 

इसी कारण उसने पूरे राज्य में ये फरमान जारी करा दिया कि आज से कोई भी सैनिक या अधिकारी शादी नहीं करेगा । लेकिन संत वैलेंटाइन को क्लॉडियस की ये बात बिल्कुल भी पसंद नहीं आई और उन्होंने इस फरमान का जमकर विरोध भी किया ।

संत वेलेंटाइन ने पूरे राज्य के लोगों को शादी करने के लिए जागरूक करना शुरु कर दिया । इसी के चलते संत वेलेंटाइन ने कई सैनिकों और अधिकारियों का विवाह करवाया । जब क्लॉडियस को संत वैलेनटाइन द्वारा किए गए विरोध का पता चला तो उन्होंने संत वेलेंटाइन को बंदी बनाने का फरमान जारी कर दिया ।



जिस काल कोठरी में संत वेलेंटाइन को बंदी बनाया गया था उसी जेल के जेलर ने उन्हें अपनी अंधी बेटी के बारे में बताया और वैलेंटाइन को उसे ठीक करने के बारे में कहा । संत वेलेंटाइन ने भगवान से प्रार्थना की और उसके कुछ समय बाद वह लड़की ठीक हो गई । लड़की जब देखने लग गई तब वह संत वेलेंटाइन से मिलने कालकोठरी गई ।

वहां उन दोनों को एक दूसरे से पहली नजर में ही प्यार हो गया था । जब इस बात की भनक राजा क्लॉडियस को पड़ी तब उसने संत वेलेंटाइन को विवाह के लिए विरोध करने को कहा । संत वेलेंटाइन ने ऐसा करने से साफ इनकार कर दिया । इसके बाद राजा क्लॉडियस ने संत वेलेंटाइन को फांसी लगाने का आदेश दे दिया ।

फांसी का आदेश सुनते ही संत वैलेनटाइन ने एक प्रेम पत्र अपनी प्रेमिका को लिखा और उसके नीचे लिखा From your Valentine । राजा ने 14 फरवरी सन् 269 में संत वेलेंटाइन को फांसी लगवा दी और तभी ये उन्हीं की यादों में लोगों द्वारा वैलेंटाइन डे मनाया जाने लगा ।

Conclusion



आज भी अगर कोई प्रेमी या प्रेमिका वैलेंटाइन डे के दिन पत्र लिखते हैं तो नीचे फ्रॉम योर वैलेंटाइन ही लिखते हैं लेकिन आज के ज़माने में लोग ग्रीटिंग कार्ड देकर ही काम चला लेते हैं । दोस्तो हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं कि आपको हमारी यह ब्लॉग कैसी लगी और अगर अच्छी लगी तो इसको शेयर करना ना भूलें ।

Comments

Popular posts from this blog

What is democracy and what is dictatorship ?

what is Geeta Jayanti ? (गीता जयंती क्या है?)

Biography of Swami Vivekananda